इलेक्ट्रिक वाहनों में एक दशक

हमारे विचार हमेशा
इलेक्ट्रिक प्रेरित रहे हैं

इलेक्ट्रिक होना हमारे लिए नया नहीं है. हमने 2008 में ही इस विचारधारा को अपना लिया था. हम वो हैं जो शुरु से ही इस पर भरोसा करते आए हैं, जो इसके लिए प्रतिबद्ध हैं, जुनूनी हैं और जो और भी गहरे जाकर नए जवाब खोजते हैं. हमारा यह विश्वास बैटरी संचालित इलेक्ट्रिक वाहनों, दो पहिया, तीन पहिया और कस्टम निर्मित वाहनों को डिजाइन करने, उन्हें विकसित करने और उनका विनिर्माण करने में परिलक्षित होता है. आइए आप भी हमारे इस सफर में हमारे साथी बनिए. द्रढ़ता के साथ बनाए गए रास्ते पर उन लोगों के साथ चलना सबसे अच्छा होता है जो पूरी तरह से चार्ज होते हैं

एम्पीयर की स्थापना

एम्पीयर की स्थापना

ई-स्कूटर के 3 मॉडल लॉन्च किए गए

दिव्यांगों के लिए स्कूटर

सरकार ने दिव्यांगों के लिए वाहनों की आपूर्ति के लिए एम्पीयर को चुना

ई-साइकिल लॉन्च की गई

ई-साइकिल के 3 मॉडल लॉन्च किए गए

उत्पाद लॉन्च

वी60 का लॉन्चिंग

भारत में निर्मित

डीएसआईआर, दिल्ली से एम्पीयर को अनुसंधान एवं विकास मान्यता मिली; एम्पीयर को टीडीबी, दिल्ली से सॉफ्ट लोन के लिए चुना गया

प्रचुर मात्रा में नवाचार

स्वदेशी चार्जर और आईक्यू बैटरी का प्रचलन

अपशिष्ट प्रबंधन के लिए वाहन

पंचायत के लिए बैटरी चालित अपशिष्ट प्रबंधन वाहन की डिजाइन और आपूर्ति, भारत में अपनी तरह का पहला

विस्तार और टाटा का निवेश

एम्पीयर ने दूसरी फैक्ट्री का उद्घाटन किया. श्री रतन एन टाटा ने एम्पीयर में निवेश किया.

अधिक निवेशक

श्री क्रिश गोपालकृष्णन और कुछ अन्य निवेशकों ने निवेश किया.

उत्पाद लॉन्च

रियों की लॉन्चिंग और वितरण फुटप्रिंट का विस्तार

ग्रीव्स का निवेश और मैग्नस की लॉन्चिंग

ग्रीव्स कॉटन लिमिटेड ने एम्पीयर में निवेश किया और बहुमत की हिस्सेदारी हासिल कर ली. रियों लिथियम और मैग्नस 60V ई-स्कूटर की लॉन्चिंग.

Zeal & Reo Elite Launched. Ampere 100% Subsidary of Greaves

Ampere becomes a 100% subsidary of Greaves Cotton Limited. Zeal & Reo Elite electric vehicles launched. 200+ Ampere showrooms opened across country.

Magnus Pro Launched. Ampere Steps into 12th Year

Ampere, a subsidary of Greaves Cotton Limited, stepped into it’s 12th year of existence. Magnus Pro electric scooter launched.

  • 2008
  • 2009
  • 2010
  • 2011
  • 2012
  • 2013
  • 2014
  • 2015
  • 2016
  • 2017
  • 2018
  • 2019
  • 2020

Read our latest Newsletters

1st Edition

2nd Edition

3rd Edition (Latest)

बिल्कुल शुरू से महिलाओं द्वारा संचालित

बिल्कुल शुरू से

एम्पीयर में, हमारे कार्यबल का 30% से अधिक कुशल और जानकार महिलाओं से बना है. हर कार्यात्मक क्षेत्र में महिलाओं को विभिन्न भूमिकाओं में नियोजित किया गया है.

मजबूत तकनीकी विशेषज्ञता के

साथ नवाचार का पोषण

ग्रीव्स के एम्पीयर को इलेक्ट्रिक वाहनों के निर्माण और विनिर्माण का एक दशक का अनुभव है. अपने अनुभव और अनुसंधान और विकास में वर्तमान प्रगति के साथ, हम पूरे भारत में इलेक्ट्रिक वाहनों की रेंज को आगे बढ़ाने के लिए उत्सुक हैं.

भारत में इलेक्ट्रिक वाहनों के प्रमुख घटकों का निर्माण करने वाली पहली कंपनी.

एम्पीयर आर&डी को वैज्ञानिक और औद्योगिक अनुसंधान विभाग (DSIR), दिल्ली से मान्यता मिली है.

इलेक्ट्रिक मोबिलिटी में 16 पेटेंट दाखिल किए गए है और 3 पेटेंट स्वीकृत हुए हैं

The first company in India to indigenously manufacture key components of an Electronic Vehicle.

एम्पीयर आर&डी को वैज्ञानिक और औद्योगिक अनुसंधान विभाग (DSIR), दिल्ली से मान्यता मिली है.

इलेक्ट्रिक मोबिलिटी में 16 पेटेंट दाखिल किए गए है और 3 पेटेंट स्वीकृत हुए हैं

आने वाली पीढ़ियों के
लिए बेहतर भविष्य

एक सही कदम, एक सही असर, बिल्कुल यहीं, बिलकुल अभी

E-Kms Driven

Liters of Petrol Saved

Happy Customers

Equivalent of Planting

Trees

संसाधन

आप के निकट, नए युग का
एम्पीयर शोरूम!

एम्पीयर ईकोसिस्टम का
अनुभव लीजिए

Need Help?
पूछताछ
[email protected]
विक्रय और ग्राहक सहायता
(1800) 123 9262
मदद चाहिए ?
पूछताछ
[email protected]
विक्रय और ग्राहक सहायता
(1800) 123 9262